Breaking News
Home / Madhya Pradesh / कटनी में अनोखा विवाह, पति-पत्नी को दोबारा मिलवाकर पुलिस स्टेशन में करवाई शादी

कटनी में अनोखा विवाह, पति-पत्नी को दोबारा मिलवाकर पुलिस स्टेशन में करवाई शादी

मध्य प्रदेश के कटनी जिले में अनोखा विवाह दिखाई दिया है। जी दरसल यहां मंत्रोच्चारण के साथ पुलिस थाने में दूल्हा-दुल्हन ने फेरे लिए है। बताया जा रहा है इस दौरान ढोल-नगाड़ों से बारात भी निकाली गई और पुलिसवाले ही बाराती बने। यह विवाह मंदिर में संपन्न हुआ और इस विवाह में थाना प्रभारी ने वर-वधू को आशीर्वाद भी दिया। बताया जा रहा है जिले के बरही नगर थाना इलाके से सामने आए इस मामले में वर-वधू की बारात में थाने के पुलिस अधिकारी समेत पूरा स्टाफ शामिल हुआ।

शादी शिव मंदिर में हुई और यहाँ थाना स्टाफ ने विवाह संपन्न कराने में पूरा सहयोग किया। इस दौरान थाना प्रभारी संदीप अयाची ने दूल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद देते हुए उन्हें भेंट स्वरूप 5 सौ रुपए और पांच बर्तन भी दिए। इस पूरे मामले के बारे में बरही नगर थाना प्रभारी संदीप का कहना है कि, ”बिचपुरा में रहने वाले रामलाल कोल और हदरहटा में रहने वाली उनकी पत्नी केशकली विवाद के कारण पिछले कई सालों से अलग होकर रह रहे थे। रामलाल ने इस दौरान पत्नी को कई बार साथ रहने के लिए मनाया, लेकिन वह नहीं मानी। अंत में उसने किसी और से दूसरी शादी करने का मन बना लिया।”

आगे उन्होंने बताया कि पति जब दूसरी लड़की से शादी करने जा रहा था, तो पत्नी के परिजनों को इस बारे में जानकारी मिल गई। उसके बाद परिजनों ने बरही थाने में शिकायत कर दी और शिकायत में कहा कि पहली पत्नी होने के बावजूद वह दूसरी शादी कर रहा है। इसके बाद Yथाने में दोनों को समझाया गया, तब जाकर दोनों ही साथ रहने को राजी हुए। उय्सके बाद दोनों पति-पत्नी साथ रहने के लिए मान गए। यह सब होने के बाद थाना प्रभारी संदीप अयाची, उप निरीक्षक मीनाक्षी पंद्रे व बाकी स्टाफ की मौजूदगी में दोनों की जयमाला हुई। वहीँ ढोल-नगाड़ों व पुलिस की उपस्थिति में ही दूल्हे की बारात निकाली गई और मंदिर में मंत्रोच्चारण के बाद शादी संपन्न हुई।

About News Desk

Check Also

नई दिल्ली के प्रगति मैदान में “भारत ड्रोन महोत्सव” का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया उद्घाटन

नई दिल्ली के प्रगति मैदान में “भारत ड्रोन महोत्सव” का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया …

Leave a Reply

Your email address will not be published.