Breaking News

गर्भवती महिलाएं भी ले सकती हैं कोरोना वैक्सीन?

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का कोविड-19 रोधी टीके से दूर रहने के लिए कहा जा रहा है. इसका लेना सुरक्षित रहेगा और इससे गर्भनाल को नुकसान नहीं होगा अब तक इस बात का कोई प्रमाण नहीं है। बीते दिनों ही पत्रिका ऑब्सटेट्रिक्स एंड गायनेकोलॉजी में प्रकाशित अपनी तरह के पहले अध्ययन में कहा गया कि ‘इस तरह के कई लेख आए हैं कि गर्भावस्था में कोविड-19 टीका लेना सुरक्षित है।’

जी दरअसल अमेरिका स्थित नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी के फेनबर्ग स्कूल ऑफ मेडिसिन के सहायक प्रोफेसर जेफ्री गोल्डस्टीन ने कहा कि ‘गर्भनाल विमान में ब्लैक बॉक्स की तरह होती है। अगर गर्भावस्था के दौरान कुछ भी गड़बड़ी आती है तो हम गर्भनाल (प्लैसेंटा) में बदलाव देख सकते हैं जिससे पता चल सकता है कि क्या हुआ।’ इसके अलावा गोल्डस्टीन ने यह भी कहा कि, ”इससे हम कह सकते हैं कि कोविड-19 रोधी टीका लेने से गर्भनाल को कोई नुकसान नहीं होता।” वही अनुसंधानकर्ताओं ने यह भी कहा है कि टीके को लेकर खासकर गर्भवती महिलाओं के बीच हिचक का भाव है। इसी के साथ नार्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी में सहायक प्रोफेसर एवं अध्ययन की सह लेखक एमिली मिलर ने कहा, ”ये आरंभिक आंकड़े हैं, लेकिन हमारी टीम को उम्मीद है कि इससे गर्भावस्था के दौरान टीके लेने के खतरे को लेकर चिंताएं घट सकती हैं।”

बताया जा रहा है अध्ययन के लेखकों ने अमेरिका के शिकागो में टीका लेने वाली 84 और टीका नहीं लेने वाली 116 गर्भवती महिलाओं में गर्भनाल का परीक्षण किया। ऐसे में ज्यादातर को गर्भावस्था के सातवें से नौवें महीने के दौरान मॉडर्ना और फाइजर के टीके की खुराक दी गयी थीं। इस बारे में मिलर ने कहा कि ”संक्रमण से बचाव के लिए टीके की खुराक लेने वाली गर्भवती महिलाओं को इसे सुरक्षित समझना चाहिए।”

About News Desk

Check Also

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने शुक्रवार को 2000 रुपये के गुलाबी नोटों पर बड़ा फैसला लिया और उन्हें सर्कुलेशन से वापस लेने की घोषणा की है.

आरबीआई ने प्रेस रिलीज में बताया कि 2018-19 में ही दो हजार रुपये का नोट …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *