Breaking News
Home / National / भारत में कोरोना की चौथी लहर आ सकती है ?

भारत में कोरोना की चौथी लहर आ सकती है ?

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के रविवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले चौबीस घंटों में कोरोना संक्रमण 3,451 नये मामले दर्ज किए गए हैं। संक्रमण दर एक फीसदी से नीचे 0.96 बनी हुई है। पिछले एक महीने में सिर्फ एक बार ऐसा हुआ जब संक्रमण दर एक फीसदी से ऊपर पहुंची। इतना ही नहीं साप्ताहिक संक्रमण दर भी एक फीसदी से नीचे 0.83 फीसदी दर्ज की गई है। कोरोना संक्रमण में आने वाले दिनों में बहुत ज्यादा वृद्धि के आसार नहीं हैं। संक्रमण दर स्थिर रहने और कोरोना का कोई नया चिंताजनक वेरिएंट सामने नहीं आने के कारण ऐसी उम्मीद जताई जा रही है। इससे सरकार ने भी राहत की सांस ली है। आशंका जताई जा रही है कि नहीं आएगी कोरोना की चौथी लहर।

मंत्रालय के अनुसार, नये संक्रमितों में गंभीर मामले बहुत कम हैं। ज्यादातर संक्रमित पांच-सात दिनों के भीतर ठीक हो रहे हैं। अस्पताल में भर्ती की दर एक फीसदी से भी नीचे है। कुछ राज्यों में भले ही यह थोड़ी ज्यादा हो लेकिन यदि राष्ट्रव्यापी आंकड़े देखें तो देश में सक्रिय मरीजों की कुल संख्या 20,635 दर्ज की गई है। इनमें से भी ज्यादातर घरों में ही इलाजरत हैं। चिकित्सा विशेषज्ञों का मानना है कि अभी देश में प्रसार में सबसे ज्यादा ओमीक्रोन ही है। इनमें ज्यादातर ओमीक्रोन के उप वेरिएंट हैं, जो संक्रामक तो हैं लेकिन ओमीक्रोन का बड़े पैमाने पर संक्रमण पहले होने के कारण उसका ज्यादा दुष्प्रभाव नहीं हो रहा है।

About News Desk

Check Also

पंडित शिवकुमार संतूर वादक का निधन, सांस्कृतिक विरासत को बड़ा नुकसान

देश के मशहूर शास्त्रीय संगीतकार और संतूर वादक पंडित शिवकुमार शर्मा का निधन हो गया …

Leave a Reply

Your email address will not be published.