Breaking News

पीएम मोदी ने की यास से निपटने की तैयारियों की समीक्षा

कोरोना संकट के बीच चक्रवात यास से निपटने की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए आज प्रधानमंत्री मोदी ने एक बैठक की जिसमें कई मंत्री तथा अफसरों ने हिस्सा लिया। इस बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने अफसरों से अपतटीय गतिविधियों में सम्मिल्लित लोगों को वक़्त पर निकालने के लिए कहा है। पीएमओ ने खबर दी है कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल ने 46 टीमों को पहले से तैनात किया है। चक्रवात यासो से निपटने के लिए आज 13 टीमों को एयरलिफ्ट किया जा रहा है। इसके साथ-साथ पीएम दफ्तर ने चक्रवात यास से निपटने की तैयारियों पर बताया कि भारतीय तटरक्षक बल, नौसेना ने राहत, खोज, बचाव कार्यों के लिए जहाजों, हेलीकॉप्टरों को तैनात किया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने अफसरों से बिजली, टेलीफोन नेटवर्क के वक़्त को कम करने के लिए कहा है। बता दें कि भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बताया है कि बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के इलाके के चक्रवाती तूफान ‘यास में बदलने की संभावना है तथा उसके 26 मई को पश्चिम बंगाल और ओडिशा तट पर पहुंचने का अंदाजा है।

पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर शनिवार को कम जोर का इलाका बना जो प्रचंड चक्रवाती तूफान में परिवर्तित हो सकता है तथा 26 मई को यह पश्चिम बंगाल, ओडिशा के उत्तरी इलाके तथा बांग्लादेश के तटों की ओर मुड़ सकता है। यह खबर क्षेत्रीय मौसम विज्ञान विभाग ने दी है। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान विभाग के निदेशक जी. के. दास ने बताया कि 26 मई की शाम तक यह तूफान दोनों प्रदेशों तथा पड़ोसी देशों के तटों को पार कर सकता है। उन्होंने बताया कि इस के चलते पश्चिम बंगाल, ओडिशा के उत्तरी भागों तथा बांग्लादेश के तट पर 26 मई की दोपहर हवा की रफ़्तार 90 से 100 किमी प्रति घंटा रह सकती है।

About News Desk

Check Also

27 नवंबर, 2023 के समापन दिवस पर, ऐतिहासिक 42वें पर पर्दा गिर गया भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले का संस्करण। इस उल्लेखनीय को मनाने के लिए कार्यक्रम में समापन समारोह आयोजित किया गया।

आईआईटीएफ 2023 पर पर्दा हटाया गया – जारी रखने के वादे के साथ उत्कृष्टता 27 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *