Breaking News

नवम्बर माह तक सड़कों का सुधार कार्य पूरा किया जाए : मुख्यमंत्री कमलनाथ

भोपाल : मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि अतिवृष्टि के कारण क्षतिग्रस्त हुई सड़कों के सुधार कार्य की प्रगति की समीक्षा प्रति सप्ताह की जाए। नवम्बर माह के अंत तक सड़कों के मरम्मत का कार्य पूरा करने के निर्देश मुख्यमंत्री ने दिए। कमल नाथ आज मंत्रालय में भारी वर्षा के कारण ग्रामीण, नगरीय एवं लोक निर्माण विभाग की खराब हुई सड़कों के सुधार कार्य की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। प्रदेश में भारी वर्षा के कारण 91,927 किलोमीटर सड़कों की मरम्मत की जाना है। बैठक में लोक निर्माण मंत्री श्री सज्जन सिंह वर्मा एवं पंचायत ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल उपस्थित थे। मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि सभी क्षतिग्रस्त सड़कों के मरम्मत का कार्य सर्वोच्च प्राथमिकता हो। उन्होंने इसके लिए वित्तीय संसाधन को जुटाने और इसके कारण कार्य में कोई बाधा न आए इसके निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़कों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए। सुधार कार्य में आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल हो। श्री नाथ ने स्पष्ट कहा कि गुणवत्ता के मामले कोई भी कोताही न होना चाहिए।

निर्माण कार्यों में प्रक्रिया का अध्ययन
मुख्यमंत्री ने सड़कों के रख-रखाव और निर्माण कार्यों में अन्य राज्यों में अपनाई गई प्रक्रिया का अध्ययन करने को भी कहा। उन्होंने कहा कि इस बात की तुलना होना चाहिए कि सड़क निर्माण के बाद प्रदेश और अन्य राज्यों की सड़कों की आयु सीमा कितनी है। कमल नाथ ने कहा कि सड़कों का निर्माण इस तरह किया जाए कि भारी वर्षा के कारण सड़कें खराब न हो। मुख्यमंत्री ने सड़कों के निर्माण कार्य में विशेषकर ग्रामीण क्षेत्र में केन्द्र सरकार से राशि प्राप्त करने के लिए प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए।

नवम्बर माह तक पूरा होगा सुधार कार्य
बैठक में बताया गया कि प्रदेश में लोक निर्माण विभाग की 5,954 किलोमीटर सड़कें क्षतिग्रस्त हुई है। जिसमें राष्ट्रीय राजमार्ग की 199 किमी, राजमार्ग 786 किमी, जिला स्तर की 1,787 किमी तथा अन्य 3,282 किमी सड़कों को भारी वर्षा के कारण नुकसान पहुँचा है। वर्षा के कारण 1,015 पुल-पुलिया क्षतिग्रस्त हुई हैं।नगरीय क्षेत्रों की 3,800 किमी की सड़कों को क्षति पहुँची है। ग्रामीण क्षेत्रों की 82,173 किमी सड़कों का रख-रखाव किया जाना है। इन सभी सड़कों का सुधार कार्य नवम्बर माह तक पूरा कर दिया जाएगा।

About News Desk

Check Also

आगरा का ताजमहल क्यों बना कुवारों के लिए अभिशाप ?

आगरा का ताजमहल क्यों बना कुवारों के लिए अभिशाप जैसा की सब जानते है कि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *