Breaking News
Home / Delhi / जाफराबाद में मुस्लिम समुदाय के लोगों का NRC पर विरोध प्रदर्शन

जाफराबाद में मुस्लिम समुदाय के लोगों का NRC पर विरोध प्रदर्शन

दिल्ली के जाफराबाद, मुस्तफाबाद में मुस्लिम समुदाय के लोगों का NRC पर विरोध प्रदर्शन

17 दिसंबर 2019 को पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद और मुस्तफाबाद क्षेत्र में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने केंद्र सरकार द्वारा लागू नागरिक संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शन किया, प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के ऊपर पथराव भी किया, जिसके कारण अनेक पुलिसकर्मी घायल हो गए। ईस्ट दिल्ली का उपद्रव जाफराबाद से शुरू हुआ जहां उपद्रवियों ने सरकारी और प्राइवेट वाहनों पर पथराव किया व पुलिस को पत्थरबाजी से घायल किया। यहां पर आरएएफ की फोर्स ने आकर उपद्रवियों को जब खदेड़ दिया, इसके बाद ये उपद्रवी पास ही के मुस्तफाबाद एरिये में जाकर वहां के स्थानीय लोगों को साथ मिलकर करावल नगर रोड पर धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया व रोड जाम कर दी। जब जाम को खुलवाने के लिए मुस्तफाबाद में पुलिस बल पहुंचा तो भीड ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया
मुस्तफाबाद में भी कई पुलिसकर्मी घायल हुए हैं , और अनेक वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया गया।
पुलिस के अनुसार कई उपद्रवियों को गिरफ्तार भी किया गया है। स्थानीय लोगों से जब यह पूछा गया कि यह बवाल किस बात को लेकर है तो उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार इस देश के मुसलमानों को देश से बाहर करने वाली है, हमें यह पता चला है कि यह नागरिक संशोधन बिल भारत के मुसलमानों को देश से बाहर निकाल देगा ,इसलिए हम सब इकट्ठे होकर केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए कानून के विरोध में धरना और प्रदर्शन कर रहे हैं जब उनसे पूछा गया कि यह कानून भारत के किसी भी नागरिक पर लागू नहीं होता ,यह हमारे देश के गृहमंत्री ने दोनों सदनों में बोला है तो क्या आपको इस पर विश्वास नहीं है, तब उन्होंने कहा कि हमारी जानकारी में ऐसी कोई बात नहीं है और यह मोदी सरकार मुसलमानों के विरोध में एक के बाद एक कानून लाए जा रही है, जो हमारे भविष्य के लिए खतरनाक साबित हो सकता है इसलिए किसी भी कीमत पर हम पूरे देश में एनआरसी नहीं होने देंगे और नागरिक संशोधन कानून को लागू नहीं होने देंगे। मुस्तफाबाद एरिया में देर रात बवाल कर रहे लोगों को समझाने के लिए दिल्ली पुलिस की पहल पर मुस्तफाबाद क्षेत्र के इमाम हबीबुर्रहमान प्रदर्शन कर रहे लोगों के बीच गए और लोगों से आह्वान किया कि वह रास्ता छोड़ दें और अपने अपने घरों को लौट जाएं।
इमाम ने बताया कि यहां पर आम आदमी पार्टी के पूर्व विधायक प्रत्याशी हाजी डॉक्टर यूनुस पब्लिक के बीच में आए थे और लोगो को यहाँ से पीछे किया और उनकी बाते भी सुनी वही इन से कुछ बात करके गए हैं, इमाम हबीबुर्रहमान ने बताया कि इस क्षेत्र में उपद्रव करने वाले लोगों में बाहरी तत्व का भी हाथ है। उन्होंने कहा कि मैं यहां देख रहा था के दंगा करने वालों में बहुत से लोग ऐसे भी थे जो कभी क्षेत्र में नहीं देखे गए। यहां लोगों को समझाने के लिए डॉक्टर यूनुस, दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष ,अल्पसंख्यक मोर्चा भी आए और लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की फिलहाल स्थिति कंट्रोल में है और पुलिस फोर्स लौट गई है। मुस्तफाबाद क्षेत्र के एडिशनल डीसीपी आरपी मीणा ने बताया कि दंगा करने वाले कुछ उपद्रवियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है और मामले की जांच की जा रही है दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी फिलहाल स्थिति नियंत्रण में ,किंतु तनावपूर्ण है।

About News Desk

Check Also

“आप” सरकार बनायी और भाजपा को हराया

कैबिनेट निर्णयों को इस तरह पलटना दिल्ली वालों का अपमान है। दिल्ली के लोगों ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published.