Breaking News
Home / Entertainment / “क्वीन” यानी महारानी कहीं जाने वाली राजश्री वर्मा की एक नई शॉर्ट वेब फिल्म शीघ्र ही एक लोकप्रिय ओ. टी.टी प्लेटफार्म पर आने वाली है. जिसमें राजश्री ने अपने हुस्न का भरपूर जलवा बिखेरा है.

“क्वीन” यानी महारानी कहीं जाने वाली राजश्री वर्मा की एक नई शॉर्ट वेब फिल्म शीघ्र ही एक लोकप्रिय ओ. टी.टी प्लेटफार्म पर आने वाली है. जिसमें राजश्री ने अपने हुस्न का भरपूर जलवा बिखेरा है.

ओटीटी की दुनिया की “क्वीन” यानी महारानी कहीं जाने वाली राजश्री वर्मा की एक नई शॉर्ट वेब फिल्म शीघ्र ही एक लोकप्रिय ओ. टी.टी प्लेटफार्म पर आने वाली है. जिसमें राजश्री ने अपने हुस्न का भरपूर जलवा बिखेरा है.
मयूरी मिडिया वर्क्स के बैनर तले लेखक निर्देशक तन्मय गोपाल और प्रसिद्ध फिल्म प्रचारक और पत्रकार पुनीत खरे द्वारा निर्मित वेब फिल्म ‘तन बदन’ रुपहले पर्दे के स्टार रहे अनिल धवन के साथ सोनिका गिल, बीरबल, राजश्री वर्मा, जोहरा मुगल, बबीता मिश्रा, राजू टैक, प्रितम ओबराय, अंजलि अग्रवाल, जीता शाही और आशा ठाकुर की मुख्य भूमिका है. संगीत राजा अली, गीत अनीता सोनी, गायिका खुशबू जैन, पटकथा व संवाद प्रज्ञा शर्मा, छायांकन थम्मन के, नृत्य जगन्नाथ दास (जे.डी.), प्रोडक्शन डिजाइनर मंटू गुप्ता, संपादन संजय सिंह, ध्वनि अक्की सुरेश और कार्यकारी निर्माता हितेश नवानी है.


“तन बदन” कहानी है एक ऐसे उच्च परिवार की जहाँ पति अनिल धवन अपने व्यापार में इतना व्यस्त रहता है कि उसे अपनी पांच जवान बेटीयाँ की शादी की भी चिंता नहीं रहती है. जो रिश्ते आते भी है वो उसे अपनी हैसियत और बेटी की शिक्षा के सामने छोटे लगते हैं और नकारते नकारते बेटियों की उम्र बडती जाती है. अपनी जिस्मानी जरूरतों को पुरा करने के लिए आपस में ही एक दूसरे को प्यार करने लगती है. संकट और गहराता है और अंत में सब ठीक हो जाता है.
४०० से भी अधिक फीचर फिल्में और २००० से भी ज्यादा अलबम का प्रचार कर चुके पुनीत आर. खरे दादा साहेब फालके, प्रेम नाम है मेरा-प्रेम चोपड़ा, सुरों के बादशाह- किशोर कुमार, लगातार ५ वर्षों से सिनेमा आजतक ऐचीवर्स ऐवार्ड सहित देश के हर हिस्से में होने वाले समारोह के हिस्सा रहे हैं. पुर्व में वो नाना पाटेकर, परेश रावल निर्मित फिल्म “आंच” के कार्यकारी निर्माता भी रह चुके हैं. उन्होंने एक कंपनी के लिए २५ विडियो एल्बम का भी निर्माण किया है और वो पिछले ३६ वषोॅ से बोलीवुड में सक्रिय हैं.
निर्देशक तन्मय गोपाल ने हिन्दी, भोजपुरी, बंगाली, गुजराती और उडिया फिल्मों का निर्माण और निर्देशन भी किया है. वही वे विज्ञापन फिल्में और वेब सीरीज का भी निर्देशन कर चुके हैं. वो कहते हैं कि “तन बदन” के माध्यम से हमने ये दिखाने का प्रयास किया है कि वक्त रहते लड़की लडके का विवाह हो जाना चाहिए, नहीं तो वो एक उम्र के बाद भटकने लगते हैं.

About News Desk

Check Also

प्रमोशन के लिए दिल्ली पहुंची फिल्म ‘हरियाणा’ की स्टारकास्ट*

  *प्रमोशन के लिए दिल्ली पहुंची फिल्म ‘हरियाणा’ की स्टारकास्ट* जल्द रिलीज होनेवाली फिल्म ‘हरियाणा’ …

Leave a Reply

Your email address will not be published.