Breaking News

ओडिशा में चक्रवात के दौरान जन्मे 750 बच्चे

बंगाल की खाड़ी से आए चक्रवाती तूफ़ान यास की वजह से बंगाल और ओडिशा में काफी तबाही हुई है। लगभग एक करोड़ लोगों पर इसका सीधा असर हुआ है। किन्तु इस बीच ओडिशा में इस महासंकट के बीच कई परिवारों के घर खुशियां भी आई हैं। जब ओडिशा तूफ़ान यास का मुकाबला कर रहा था, उस दौरान राज्यों में लगभग 750 बच्चों का जन्म हुआ। अब कई लोग अपने बच्चे का नाम ही ‘Yaas’ रख रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यास के कहर के दौरान ओडिशा के दस जिलों में 750 बच्चों का जन्म दर्ज किया गया है। इन्हीं में से कई परिवार अपने बच्चों का नाम यास दर्ज करवा रहे हैं। बता दें कि मंगलवार की रात के समय जब बंगाल की खाड़ी से उठा तूफ़ान ओडिशा पर दस्तक दे रहा था, उसी वक्त कई बच्चों ने जन्म लिया। बालासोर में चक्रवात का लैंडफॉल हुआ है, जिला मुख्यालय से करीब 50 किमी। दूर सोनाली मैती ने इसी दौरान एक लड़के को जन्म दिया और बिना देरी किए उन्होंने बच्चे का नाम Yaas रख दिया।

ऐसा ही केंद्रपाड़ा की रहनी वाली सरस्वती बैरागी ने किया, उन्होंने चक्रवात के दौरान जन्मी अपनी बेटी का नाम Yaas रखा। बता दें कि इस बार आए साइक्लोन का नाम ओमान की ओर से रखा गया था, यास एक पर्शियन शब्द है। वहीं, अंग्रेजी में इसे जैस्मीन कहते हैं।

About News Desk

Check Also

27 नवंबर, 2023 के समापन दिवस पर, ऐतिहासिक 42वें पर पर्दा गिर गया भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले का संस्करण। इस उल्लेखनीय को मनाने के लिए कार्यक्रम में समापन समारोह आयोजित किया गया।

आईआईटीएफ 2023 पर पर्दा हटाया गया – जारी रखने के वादे के साथ उत्कृष्टता 27 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *